What is NAV-NAV क्या है? कैसे CALCULATE होता है

What is NAV in Mutual funds?

What is NAV- किसी Mutual Fund की प्रति शेयर मार्किट वैल्यू को NAV या Net Asset Value कहा जाता है। किसी फंड की NAV पता करने के लिए उसकी टोटल एसेट वैल्यू में से देनदारी को घटा कर अगर उसको टोटल शेयर से डिवाइड कर दिया जाए तो उसे उस म्यूचुअल फंड की NAV कहा जाता है।

What is NAV

आसान भाषा में NAV का मतलब (What is NAV)

जैसे स्टॉक मार्किट में जिस भाव पर किसी स्टॉक को बेचा या खरीदा जाता है तो उसे उस स्टॉक का शेयर प्राइस अथवा CMP(current market price) बोला जाता है। उदाहरण के लिए अगर आपको bajaj finance कंपनी में आपको 1 लाख रुपए का निवेश करना है और बजाज फाइनेंस का एक शेयर का प्राइस 1000 रुपये है तो आप 1 लाख रुपए में बजाज फाइनेंस के 100 शेयर खरीद सकते हैं।

इसी तरह से जब कभी Mutual Fund मे निवेश की बात होती है तो जाहिर सी बात है कि हमे उस म्यूचुअल फंड के एक शेयर की कीमत पता होनी चाहिए तभी हमे पता चलेगा कि हम अपनी निवेशित राशि से उस mutual Fund के कितने शेयर या कितनी यूनिट खरीद सकते हैं?किसी Mutual fund की इसी एक शेयर की कीमत को NAV(Net Asset Value) बोला जाता है? अब प्रश्न ये उठता है कि mutual Fund की प्रति शेयर वैल्यू को NAV क्यों कहा जाता है? NAV full form – Net Asset Value

यह भी पढ़ेंMutual fund definition: म्यूचुअल फंड क्या है और कितने प्रकार का होता है

Difference between NAV & Stock price

स्टॉक मार्किट की तरह Mutual fund के शेयर को real time ट्रेड नहीं किया जाता अर्थात् जैसे मार्किट hours में किसी स्टॉक को आप किसी भाव पर खरीद रहे हैं तो जरूर किसी निवेशक या ट्रेडर ने उस भाव पर उस स्टॉक को बेचा होगा तभी आप उसको खरीद पाएं हैं।

लेकिन म्यूचुअल फंड में ऐसा नहीं है म्यूचुअल फंड में निवेशक आपस में ट्रेडिंग नहीं कर सकते। क्योंकि म्यूचुअल फंड का शेयर प्राइस अर्थात NAV प्रतिदिन मार्किट बंद होने के बाद तय होता है। और NAV का निर्धारण म्यूचुअल फंड की ASSET(कुल संपत्ति) और liability(देनदारी) से होता है।

बहुत से लोग समझते हैं कि किसी एसेट की नेट वैल्यू और इसके इक्विटी शेयर की कुल वैल्यू बराबर होती है लेकिन ऐसा नहीं है क्योंकि इक्विटी शेयर की कीमत में केवल लिक्विड असेट की कीमत को शामिल किया जाता है लेकिन NAV में लिक्विड और नॉन लिक्विड दोनों को शामिल किया जाता है।

तो अब तक आप NAV क्या होता है और ये इक्विटी शेयर से किस तरह से भिन्न है ये अच्छे से जान गए हैं। अब इससे पहले कि हम ये जाने की NAV का फॉर्मूला क्या है और कैसे net asset value की गणना की जाती है उससे पहले हमे कुछ प्रमुख टर्म जैसे कि asset और liabilities को अच्छे से समझ लेना चाहिए तभी हम NAV formula को अच्छे से समझ पाएंगे।

What is asset (एसेट क्या है)

Asset का शाब्दिक अर्थ संपत्ति से है और बात जब म्यूचुअल फंड की हो म्यूचुअल फंड की चल-अचल (Liquid-nonliquid) सम्पति को asset बोला जाता है।

म्यूचुअल फंड के एसेट मे उसके विभिन्न कंपनियों के स्टॉक्स में निवेशित रकम, कैश, निवेश से उत्पन्न आय तथा और अन्य asset जिनको कैश में परिवर्तित किया जा सके शामिल होता है।

दिन में दोपहर 3:30 बजे मार्किट बंद होने के बाद फंड के पोर्टफ़ोलियो में शामिल कंपनियों के शेयर के क्लोजिंग प्राइस से इस की मार्किट वैल्यू निकाली जाती है।

इन सबके अतिरिक्त फंड के पास निवेशकों के redemption के लिए कुछ गैर निवेशित कैश भी होता है जिसको लिक्विड कैश भी बोलते हैं। इसके अलावा डिविडेंड और ब्याज पेमेंट भी शामिल होते हैं।

ऊपर बताए गए सभी एसेट के कुल योग को mutual Fund assets बोला जाता है।

इसलिए,

  • Asset =Market value of invested money +cash equivalent + other liquid asset +dividend +interest payment +non invested cash

What is mutual fund Liabilities(liability का क्या मतलब है )

Liability का मोटा अर्थ देनदारी होता है। अर्थात एक म्यूचुअल फंड के सभी देनदारी और खर्चे को मिलाकर liability बोला जाता है। जब mutual fund NAV की गणना की जाती है तो liability का भी खास रोल रहता है।

Liability मे वो सभी राशि जो किसी संस्था अथवा lenders से उधार ली गई है अथवा उधार की प्रकिया में शामिल फीस और अन्य चार्ज शामिल होता है। इसके अतिरिक्त इसमे अन्य खर्च जैसे स्टाफ की सैलरी का खर्च, फंड मैनेजमेंट का खर्चा, फंड ऑपरेशन का खर्च, ऑफिस के अन्य खर्च आदि भी शामिल होते हैं।

What is NAV (Net Asset Value) formula? NAV का फॉर्मूला क्या है 

अगर आपने mutual Fund asset और liabilities को अच्छे से समझ लिया है तो आपको फिर म्यूचुअल फंड NAV को calculate करने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

NAV   =   total assets- total Liability/total outstanding share

क्या NAV का मतलब म्यूचुअल फंड की परफॉर्मेंस से है?

बहुत से लोग समझते हैं कि कि म्यूचुअल फंड की NAV का सीधा मतलब उस फंड की परफॉर्मेंस से है। उनके अनुसार एक फंड का NAV जितना ज्यादा होगा उसका परफॉर्मेंस उतना ही ज्यादा होगा। उदाहरण के लिए अगर अगर किसी फंड का NAV 500 है और दूसरे फंड का 50 रुपए है तो पहले फंड की परफॉर्मेंस ज्यादा अच्छी है इसलिए उसमे पैसा निवेश करना अच्छा है या दूसरा फंड सस्ता है इसलिए उसमे निवेश करना अच्छा है।

लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। mutual fund NAV सिर्फ फ़ंड की प्रतिदिन की परफॉर्मेंस को इंगित करता है नाकी इस बात का सूचक है कि कोई Mutual fund कितना पैसे निवेश करने लायक है।

किसी फंड की परफॉर्मेंस जानने के लिए या ये पता करने के लिए ये फंड पैसा निवेश करने लायक है या नहीं आपको फंड का वर्तमान खर्च और पिछले एक साल से लेकर 5 साल तक का रिटर्न देखना चाहिए। जिसमे फंड में खर्चा कम और साल दर साल रिटर्न ज्यादा हो उसमे निवेश करने का विचार कर सकते हैं। 

1 thought on “What is NAV-NAV क्या है? कैसे CALCULATE होता है”

Leave a Comment